महानिदेशक भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) का हिमवीरों को नए साल का शुभकामना सन्देश

श्री सुरजीत सिंह देसवाल

श्री सुरजीत सिंह देसवाल, भा0पु0से0 (हरियाणा-1984)

प्यारे हिमवीर साथियों,
         नव वर्ष 2021 की आपको और आपके परिजनों को हार्दिक शुभकामनाएं I ये साल आप सभी के लिए खुशियों की सौगात लेकर आए, ऐसी मेरी कामना है I


      आईटीबीपी ने इस बीते साल में देश की सुरक्षा और देशवासियों की सेवा में स्मरणीय योगदान किया है । समस्त देश ने देखा कि किस प्रकार सीमा पर हिमवीरों ने उल्लेखनीय वीरता का परिचय दिया और ‘शौर्य, दृढ़ता, कर्मनिष्ठा’ के साथ सीमा सुरक्षा में कोई कसर नहीं रखी । इसके साथ ही कोरोना की चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में भी हम सबने मिलकर देश को और उसकी कोरोना के विरुद्ध व्यवस्था के प्रबंधन में बिना स्वयं की परवाह किये बगैर अद्वितीय भूमिका निभाई जिसका हमें गर्व है ।


      जहाँ एक ओर हमने इस दौरान कई चुनौतियों के बीच पहल करके अपना कर्त्तव्य दृढ़तापूर्वक निभाया बल्कि हमने कई उपलब्धियां भी हासिल की हैं । आईटीबीपी की फील्ड यूनिट्स द्वारा कोविड 19 के विरुद्ध सख्त प्रोटोकॉल के पालन के कारण अब तक हम इस बीमारी को बल में नियंत्रित करने में सफल रहे हैं । हमने छावला में जनवरी में देश का पहला 1000 बिस्तरों वाला क्वारंटाइन केंद्र बनाया और देश तथा विदेशों के नागरिकों को भी सफलतापूर्वक क्वारंटाइन किया । मार्च और अप्रैल में तब फेस मास्क और पीपीई किट का निर्माण किया और इसका वितरण किया जब इसकी सबसे ज्यादा ज़रूरत थी । देशव्यापी लॉक डाउन में मार्च से मई तक आईटीबीपी जवानों ने लगातार दुर्गम सुदूर इलाकों तक ज़रूरतमंद लोगों को राहत सामग्री पहुंचाई एवम आपूर्ति मार्ग को सुचारू बनाये रखा और सिविल प्रशासन की भी इसमें मदद की ।

       जुलाई से सरदार पटेल कोविड केयर केंद्र और अस्पताल, राधा स्वामी व्यास, छतरपुर, नई दिल्ली में हमने विश्व के सबसे बड़े 10,000 बिस्तरों वाले कोविड केयर केंद्र का सफल सञ्चालन किया जिसमें हज़ारों लोगों का निःशुल्क इलाज़ उपलब्ध करवाया गया और अभी भी यह अस्पताल अपना कार्य कर रहा है । हम अपने डॉक्टर्स और पैरा मेडिकल स्टाफ के प्रति कृतज्ञ हैं और हमें उन पर गर्व है, जिन्होंने ईमानदारी और पूर्ण निष्ठा से इस परिस्थिति में भी देशवासियों की सेवा की । हमने आईटीबीपी रेफ़रल अस्पताल, ग्रेटर नोएडा में लगातार हमारे हिमवीरों का और दिल्ली एनसीआर में अन्य बलों के कर्मियों और पुलिस कर्मियों, सेवानिवृत्त कर्मियों और उनके परिवारों का भी निःशुल्क इलाज़ किया और ये प्रक्रिया अभी भी ज़ारी है । हम भविष्य में भी इसी प्रकार देश की सेवा में समर्पित होकर कार्य करते रहेंगे ।

      मुझे यह बताते हुए बहुत हर्ष हो रहा है कि पिछले दिनों आईटीबीपी को सरकार ने मथुरा रोड, नई दिल्ली में चिर प्रशिक्षित आईटीबीपी बल मुख्यालय भवन के लिए भूमि का आबंटन कर दिया है । बल के लगभग 59 वर्ष के इतिहास में यह पहली बार है कि हमें बल मुख्यालय के लिए एक समर्पित भूमि खंड नई दिल्ली के केन्द्रीय इलाके में उपलब्ध हुआ है जहाँ बहुत जल्दी बल के मुख्यालय भवन का निर्माण होगा और हमारी सभी शाखाएं एक ही भवन से कार्य कर सकेंगी । इसके लिए बल परिवार को मेरी बधाई ।

      इस वर्ष से बल के दो कमांड मुख्यालयों ने क्रमशः चंडीगढ़ और गुवाहाटी से कार्य करना प्रारंभ कर दिया है । देश की सीमाओं की सुरक्षा के साथ साथ आईटीबीपी अन्य सौंपी गई सुरक्षा भूमिकाओं में भी कृत संकल्पित होकर बेजोड़ कार्य कर रही है जिसके लिए मैं सभी अधिकारी और जवानों को शाबासी देता हूँ ।

      अपने मूल कार्यों के अलावा आईटीबीपी ने इस साल फिट इंडिया मिशन में भी अग्रणी भूमिका निभाई है और मिशन 200 किलोमीटर और मिशन 100 किलोमीटर जैसे जन जागरूकता के सफल अभियान आयोजित किये हैं । हमने उत्कृष्ट जीवटता का परिचय देते हुए इस साल दो पर्वतों- लियो परगिल और भागीरथी 2 का भी सफल आरोहण किया और प्रशिक्षण गतिविधियों को लगातार जारी रखा । मुझे ख़ुशी है कि आईटीबीपी सबसे फिट सुरक्षा बल है और हमें ये आगे भी यह सुनिश्चित करना है ।

      नए साल में हमें यह प्रण लेना है कि हम अपने आपको और अपने परिवारजनों को स्वस्थ रखेंगे, अपने सपनों को पूरा करने के लिए मेहनत से काम करेंगे और देश की सेवा में हमेशा की तरह आगे बढ़कर योगदान करेंगे । मैं पूर्व आईटीबीपी कर्मियों और उनके परिवारों को भी नव वर्ष की मंगलकामनाएं देता हूँ ।

एक बार फिर आप सभी को नव वर्ष 2021 की अशेष शुभकामनाएं ।

जय हिन्द ।

एस एस देशवाल
डीजी आईटीबीपी